2G,3G,4G क्या होता है? हिन्दी में पूरी जानकारी। techconnection

2G,3G,4G क्या होता है?

 
 
दोस्तों एक बार फिर से आपका स्वागत है हमारे टेक ब्लॉग techconnection में. इंटरनेट, जिस तरह से इसने मनुष्य जीवन को एक तकनीक का मार्ग दिखाया है और लोगों ने इसे अपने विकास के लिए अपनाया है वह काफी सराहनीय है. इंटरनेट और तकनीक ने शिक्षा, व्यापार, स्वास्थ्य, अनुसंधान, सभी क्षेत्रों में अपना परचम लहराया है. पिछले दो दशक में इंटरनेट यूजर्स की संख्या में काफी तेज बढ़ोतरी हुई है. अब लोग छोटी से छोटी जानकारी के लिए भी इंटरनेट की ओर रुख करते हैं. 


लेकिन इंटरनेट के विकास का मुख्य अंग इसकी गति है. इंटरनेट की स्पीड और अन्य कई तत्वों के आधार पर ही इसके विकास की जांच होती है. फिलहाल भारत देश में लोग 4G इंटरनेट की सेवाओं का आनंद ले रहे हैं, इससे पहले हमने 3G, और 2G इंटरनेट का भी इस्तेमाल किया है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये सब 2G 3G 4G क्या है? और 2G 3G 4G 5G में g का मतलब क्या है?

नहीं जानते तो कोई बात नहीं, आज आप इसके बारे में पूरी तरह से जान जाएंगे. 

इंटरनेट दरअसल एक वरदान ही है जिसके उपयोग से मानव जीवन का कल्याण हो रहा है. कहाँ लोग अपनी बातों को दूसरों तक पहुँचाने के लिए महीने का इंतजार करते थे, वहीं अब मात्र एक क्लिक करते ही हमारा संदेश देश-विदेश तक पहुंच जाते हैं. 
लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इंटरनेट का दुरुपयोग करते हैं, जैसे कि cyber crime, इसे आप इंटरनेट से किए जाने वाले चोरी या कोई अन्य अपराध के समान समझ सकते हैं. 

इंटरनेट का प्रयोग सदैव सावधानी से और अच्छे कार्यों एवं जानकारी प्राप्ति के उद्देश्य से ही करना चाहिए. इसका दुरुपयोग से आपको हमेशा क्षति ही होगा. 
तो चलिए हम विस्तार में  जानते हैं कि आखिर 2G 3G 4G क्या है? और 2g 3g 4g ka matlab kya hota hai?

तो चलिए शुरू करते हैं.. 

Techconnection.in


Also Read 

 

इंटरनेट क्या है? 

(What is internet in hindi) 

 

दोस्तों यदि इंटरनेट की परिभाषा की बात की जाए तो आप इसे सरल भाषा में समझ सकते हैं, कि किसी भी दो या दो से अधिक कम्प्यूटर का एक दूसरे से लिंक होना ताकि वे आपस में जानकारी का आदान-प्रदान कर सकें. इंटरनेट को हिन्दी में अंतरजाल भी कहते हैं. 
 

दोस्तों मोबाइल तकनीकी का विकास पीढ़ी दर पीढ़ी हुआ है, उन सभी पीढ़ियों को मैंने विस्तार में इस पोस्ट में बताया है. वहीं बात की जाए की 2G 3G 4G ka full form के बारे में तो G का पूरा रुप ‘Generation‘ होता है जिसे पीढ़ी कहते हैं
इंटरनेट की शुरुआत लगभग 1960-70 के बीच अमेरिकी वैज्ञानिकों द्वारा की गई थी. शुरूआत में इंटरनेट को ARPANET यानि (Advance Research Project Agency Network) कहा जाता था.


इंटरनेट की खोज के पीछे दो वैज्ञानिक Vint Cerf और Bob Kahn का नाम आता है. 

इंटरनेट का इतिहास तो बहुत बड़ा है, लेकिन हम इस पोस्ट मेंं उसके बारे में ज्यादा बात नहीं करेंगे. हमें मोबाइल तकनीकी की पीढियों के बारे में जानना है कि आखिरकार ये 2जी, 3जी 4G का अर्थ क्या है?

तो चलिए सभी पीढ़ियों के बारे में विस्तार में जानते हैं.

Techconnection.in




मोबाइल तकनीक की पीढियां 

(Mobile generation in hindi) 

 
दोस्तों इंटरनेट के बारे में मैंने बताया कि जिस तरह से आप आज 4G इंटरनेट सेवा का लाभ उठा रहे हैं, यह मोबाइल तकनीक के पीढ़ी दर पीढ़ी विकास का नतीजा है. आज भारत इंटरनेट यूजर्स की संख्या में सबसे आगे है. वहीं बात की जाए की जब भारत में इंटरनेट की शुरुआत 15 अगस्त 1995 में हुई थी, उस वक्त मात्र एक हजार व्यक्तियों के पास ही इंटरनेट की सेवा थी. 

एक सर्वे के मुताबिक यह अंदाजा भी लगाया गया है कि 2023 तक भारत में लगभग 6 अरब से भी ज्यादा इंटरनेट यूजर्स हो जाएंगे. 
दरअसल पिछले चार से पांच सालों में भारत में इंटरनेट यूजर्स की संख्या बढ़ी है जिसकी मुख्य वजह है भारतीय टेलीकॉम कंपनी Jio द्वारा दिया जाने वाला इंटरनेट डाटा की सुविधा. इस पोस्ट में आपको 2g 3g 4g network के बारे जानकारी के साथ साथ 2g 3g 4g 5g difference और साथ ही 2g 3g 4g frequency bands in india को भी बताया गया है. 

Jio के 4G इंटरनेट के सस्ते डाटा प्लान ने इंटरनेट यूजर्स की संख्या में बढ़ोतरी लाई है. 

हम mobile generation in hindi की शुरूआती पीढ़ी से जानने की कोशिश करते हैं कि किस तरह से आखिर mobile generation history का सफर 1G to 5G तक बढ़ा. 

यहां आपको 2g 3g 4g network और 1g 2g 3g 4g 5g comparison chart को बताया गया है जहां generation of network 1g 2g 3g 4g 5g सभी के बारे में विस्तार में बताया गया है.

पहली पीढ़ी :- 1G

    • 1. दोस्तों 1G की शुरुआत लगभग 1980 के दशक में हुई थी. 
    • 2. यह मोबाइल तकनीक analogiue signals के आधार पर काम करता था. 
    • 3. इसमें आपको केवल कॉलिंग की सुविधा ही उपलब्ध होती थी. 
    • 4. इसमें इंटरनेट की गति 24kbps की होती थी. 
    • 5. इस मोबाइल तकनीक की पीढ़ी में बने मोबाइल में एक छोटा सा antenna भी लगाया होता था. 
    • 6. 1G मोबाइल की बैटरी लाइफ बिल्कुल ही कम थी. 

 

दूसरी पीढ़ी :- 2G

    • 1. यह मोबाइल तकनीकी की दूसरी पीढ़ी है, जिसे 2G के नाम से जाना जाता है.
    • 2. इसकी शुरुआत लगभग 1990 में हुआ था. 
    • 3. मोबाइल तकनीक की इस पीढ़ी में इंटरनेट की गति 64 kbps की थी, जो आज के 4G इंटरनेट की गति की तुलना में बिल्कुल ना के बराबर था. 
    • 4. इसमें आपको कॉलिंग के साथ साथ मैसेज भेजने की भी सुविधा उपलब्ध थी. 

 

तीसरी पीढ़ी :- 3G

    • 1. यह मोबाइल तकनीक की तीसरी पीढ़ी थी. 
    • 2. इस मोबाइल तकनीक की शुरुआत वर्ष 2003 में हुई थी. 
    • 3. इसमें इंटरनेट की गति बढ़कर 3mbps तक हुई. 
    • 4. इस मोबाइल तकनीक में बनने वाली मोबाइल में मल्टीमीडिया को लाया गया जहां से आडियो, और विडियो जैसी सेवाएं उपलब्ध हुई. 

  • 5. इसमें आप कॉलिंग, मैसेज के साथ साथ इंटरनेट की सुविधा का आनंद ले सकते थे. 
 
Techconnection.in
 

चौथी पीढ़ी :- 4G

    • 1. मोबाइल तकनीक की चौथी पीढ़ी जो 4G के नाम से जानी जाती है. 
    • 2. इसकी शुरुआत वर्ष 2009 में हुई थी. 
    • 3. मोबाइल तकनीक के इस पीढ़ी में बन रहे सभी मोबाइल में काफी एडवांस फीचर मौजूद हैं जैसे कि विडियो कॉलिंग, voice assistant, इत्यादि. 
    • 4. इस पीढ़ी में इंटरनेट की गति लगभग 100mbps की है. 

  • 5. यह IP (Internet Protocol) के आधार पर काम करता है. 
  • 6. जब शुरूआत में 4G तकनीक प्रयोग में लाई गई थी तब यह LTE यानि Long Term Evolution पर काम करती थी, क्योंकि इसमें कई तरह की सुधार की जरूरत थी जैसे कि कॉलिंग. फिर लगभग एक वर्ष बाद 4G में VoLTE यानि की Voice over LTE लाई गई जिससे कि कॉलिंग और इंटरनेट की बेहतरीन सुविधा उपलब्ध हो सकी. 
 

पांचवीं पीढ़ी :- 5G

    • 1. यह मोबाइल तकनीक की सबसे latest generation हैं, जिसे प्रयोग के लिए कई देशों में शुरू कर दिया गया है. 
    • 2. इसकी शुरुआत 2020 में ही की गई है लेकिन भारत देश में अभी इसकी टेस्टिंग की जा रही है. 
    • 3. मोबाइल तकनीक के इस पीढ़ी में आप इंटरनेट को 1gbps के रफ्तार तक इस्तेमाल कर सकते हैं. 

  • 4. यह 4G तकनीक से थोड़ा अलग होगा जहां आप अपने सारे gadgets को अपने मोबाइल से operate कर सकते हैं. 
यहां तक मुझे उम्मीद है कि आपको 2g 3g 4g 5g का क्या अर्थ है इस सवाल का जवाब मिल गया होगा. 
 

Conclusion

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में मैंने पूरे विस्तार में आपको बताया कि 2g 3g 4g me g ka matlab kya hai. और cellular phone ki generation के बारे में भी पूरी जानकारी दी है. टेस्टिंग के बाद भारत देश में 5G को लांच कर दिया जाएगा.
यदि इस पोस्ट से जुड़ी कोई सवाल हो तो आप कमेन्ट कर के जरूर बताएं. 

आप techconnection पर ऐसे ही जानकारी भरे आर्टिकल को पढ़ने के लिए आप techconnection से जुड़े रहें और हमारे सभी सोशल मीडिया प्रोफाइल से जरूर जुड़े. 
…….. 😊😊

Leave a Comment